About PGK

Pratap Gaurav Kendra Rashtriya Tirth

Introduction About

Pratap Gaurav Kendra

मेवाड के महाराणा प्रताप के शौर्य पराक्रम का यशोगान मेवाड ही नही वरन सम्पूर्ण देश-विदेश तक पहुंचे,इसके लिए कोई सार्थक पहल की जाए।उन्होने यह प्रस्ताव संघ के वरिष्ठ अधिकारियो के समक्ष रखा जिसके फलस्वरूप उदयपुर मे वीर शिरोमणि महाराणा प्रताप समिति का गठन किया गया।प्रारंभ मे इतिहासविदो के साथ चर्चा कर महाराणा प्रताप के जीवन,इतिहास की सटिक जानकारी एवं हल्दीघाटी युद्ध मे महाराणा प्रताप की विजयी हुए जैसे विषय को इंगित करते हुए एक केन्द्र खडा करने का निर्णय किया गया जिसके परिणामस्वरूप प्रताप गौरव केंद्र बनना तय हुआ।प्रारंभ काल मे संघ के स्वयंसेवको के प्रयत्न से राजस्थान मे निधि संग्रह अभियान चलाकर राशि संग्रहण का कार्य प्रारंभ किया गया।शनैः शनैः समाज का सहयोग मिलता गया।18 अगस्त 2008 को शिलान्यास किया गया तत्पश्चात प्रताप गौरव केंद्र के निर्माण को गति मिलती गई और आज यह राष्ट्रीय तीर्थ के रूप मे हमारे समक्ष खडा है।

मेवाड की हृदयस्थली एवं पर्यटन नगरी उदयपुर मे प्रताप गौरव केंद्र राष्ट्रीय तीर्थ पर्यटको के भ्रमण की दृष्टि से मुख्य पर्यटन केन्द्र बन चुका है।विदित है कि प्रताप गौरव केंद्र 9 दिसम्बर 2016 को आमजन के दर्शनार्थ सशुल्क खोल दिया गया था,जो 9 दिसम्बर 2020 को 4 वर्ष पूर्ण कर 5 वे वर्ष मे प्रवेश कर गया ।वीर शिरोमणि महाराणा प्रताप के शौर्य पराक्रम को उल्लेखित करता यह प्रताप गौरव केंद्र एक मनोरंजन का स्थल ना होकर एक तीर्थ है।

Visit

संघ प्रमुख – प्रधानमंत्री सहित संत भी पधार चुके

प्रताप गौरव केंद्र “राष्ट्रीय तीर्थ” के दर्शन करने राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के सरसंघचालक मोहनराव भागवत एवं भारत के यशस्वी प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी,राष्ट्रीय संत कथा वाचक मुरारी बापू व साध्वी ऋतम्भरा भी यहां पधार चुकी है।इनके अलावा राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के सरकार्यवाह भैया जोशी,संघ के अ.भा.सह बौद्धिक प्रमुख सुनील भाई मेहता,अ.भा.घुमंतू कार्य प्रमुख दुर्गादास,भारत सरकार मे केन्द्रीय मंत्री नितीन गडकरी व महेश शर्मा,विश्व हिन्दू परिषद के द्वय केन्द्रीय मंत्री जुगल किशोर व अजेय कुमार पारीक,लघु उद्योग भारती के अ.भा.संगठन मंत्री प्रकाश चंद्र,भारतीय किसान संघ के अ.भा.संगठन मंत्री गजेन्द्र सिंह,भाजपा के राष्ट्रीय सचिव एवं उत्तराखण्ड के पोढी गढ़वाल से सांसद एवं उत्तराखण्ड मुख्यमंत्री  तीरथ सिंह रावत, भारत सरकार में केन्द्रीय मंत्री अर्जुनराम जी मेघवाल, केन्द्रीय राज्य मंत्री प्रताप चन्द्र सारंगी, राजस्थान के पूर्व राज्यपाल कल्याण सिंह,पूर्व मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे,हरियाणा के पूर्व उप मुख्यमंत्री राम विलास शर्मा,मध्य प्रदेश खडवा के सांसद नंद कुमार सिंह,कर्नाटक के बीदर से सांसद भगवंत खूबा,उतर प्रदेश के हमीरपुर से सांसद पुष्पेनदर सिंह पधार चुके है।यही नही संत गणो का आशीर्वाद भी मिल चुका है जिसमे स्वामी नारायण संस्था के संत बहमाबिहारी स्वामी,आबूधाबी से अक्षर प्रेम स्वामी,साधु योगी प्रेमदास,हरिद्वार के आर्य वानप्रस्थ आश्रम के महात्मा प्रेममुनि महाराज शामिल है।

Future plans of the center

प्रताप गौरव केंद्र की भावी योजना के अन्तर्गत कई निर्माण कार्य होना शेष है जिसमे लेजर शो,मेवाड स्फूर्ति केन्द्र दीर्घा,राजसिंह संग्रहालय,फूड कोर्ट, भामाशाह मार्केट,मातृशक्ति दीर्घा,बच्चो के लिए एनिमेशन फिल्म एवं रोप वे शामिल